क्रिप्टोकरेंसी क्या है इन हिंदी? |Cryptocurrency meaning in hindi

प्रस्तावना:-

आज मै आपको क्रिप्टोकरेंसी क्या है इन हिंदी? (Cryptocurrency meaning in hindi) इस आर्टिकल के माध्याम से Cryptocurrency के बारे मे बताने वाला हूँ,शायद आपने जो कभी सुना ही नही होगा वह भी आप सुन पायेंगे। Cryptocurrency की क्रेज अपने भारत मे ही नही पूरा दुनिया मे बढ रहा है।आज हर कोई Cryptocurrencyके बारे मे जानना चाहता है।मै इसलिए सोचा कि, क्यों ना Cryptocurrency के बारे सही जानकारी लोगों तक ना पहुंचाए जाए।

जो दुनिया मे चल रहा है उसके बारे मे जान ने का अधिकार पाठकों का रहता है, ठीक इसी तरह सही जानकारी पाठकों तक पहुंचाना एक ब्लॉगर का काम होता है।इसे आसान भाषा में कहे तो यह ब्लॉगर का कर्तव्य होता है।इसी को मध्यनजर रखते हूए इस आर्टिकल को लिखने बैठा है।मै इस आर्टिकल मे Cryptocurrency क्या है? यह किस तरह काम करता है? Cryptocurrency शुरुआत कब और कैसे हुआ है? इसका नुकसान और फायदे के बारे मे बात करने वाला हूँ। क्या एक आम आदमी इस फिल्ड मे पैसे कमाने के लिए खुद को अजमाके देख सकते है?इस तरह सही जवाब आप इस आर्टिकल को पढने के बाद समझ मे आयेगा।

Post name
What is cryptocurrency?

यह आर्टिकल निश्चित रूप से थोडा लंबा हो सकता है,लेकिन काफी इंफरमेटिव् भी है। कभी कभी जो अच्छी बाते यह समझना या सुनना हमे थोडा समय लगता ही है।लेकिन हमे समझना ही पडेगा। इससे अपना तो नालेज बढेगा ही बढेगा,इसके साथ ओरों का फायदा हो सकता है।

क्रिप्टोकरेंसी क्या है इन हिंदी? |Cryptocurrency meaning in hindi

आज के जमाने में हर कोई पैसे ऑनलाईन कमाने के लिए देख रहे है।वैसे ऑनलाइन पैसे कमाने के बहुत सारे मार्ग आज हमारे सामने नजर आता है, जैसे कि,ब्लॉगिंग(Blogging) ,Youtube, freelancing, affiliate marketing, online courses इस तरह के बहुत सारे मार्ग है, जहाँ से हम पैसे कमा सकते हैं।अभी मैंने इसमे जो बताया है जैसे ब्लॉगिंग(Blogging), YouTube,और online courses के लिएहमे पैसे खर्च करना पढेगा,बादमे हम इससे पैसे कमा सकते हैं जैसे आज Harsh Agarwal,Pavan Agrawal, Pritam Nagarale ये सभी ब्लॉगर्स है ब्लॉगिंग से पैसे कमाते है

ठीक इसी तरह YouTuber भी काफी पैसे कमाते हे जैसे  Satish Khushvaha,Amit Mishra आदी। ये सभी लोग इस फिल्ड मे थोडा थोडा पैसे इनवेस्ट करते है और अच्छे कंटेट भी अपने युजर प्रोवाइड करते हैं जिसके बदोलत पैसे कमाते भी है।

अगर मै freelancers की बात करू तो, ये लोग पैसे खर्च करते नही है।ये अपनी सेवा(service)प्रोवाइड करते है जिसके बदले कुछ फी चार्ज करते है। दोस्तो मै आपको यह बताना चाहता हूँ कि, इस तरह लोग ऑनलाइन पैसे कमाते है इसके लिए ये लोग क्या क्या करते है ये मै आर्टिकल मे नही बतानेवाला हूँ, क्योंकि अपना टॉपिक क्रिप्टोकोर्रेंसी क्या है इन हिंदी? |Cryptocurrency meaning in hindi यानी क्रिप्टोकरेंसी क्या है? What is cryptocurrency? in hindi यह है तो इसका मतलब यह है आपलोग जानना चाहते हैं कि, cryptocurrency क्या है। अभी मै इसके बारे मे ही बात करनेवाला हूँ।

Cryptocurrency क्या है? What is cryptocurrency?

दोस्तो Cryptocurrency यह एक Decentrallized Currency होती हैं, इसका मतलब यह है कि इस तरह के Currency किसी एक देश का नही हो सकती है। इसमे जो पैसे का लेन देन होता है वह सिर्फ दो ही लोगों का पता चलता है जिसमे एक पैसे देनेवाला ओर एक पैसे लेने वाला।इतना ही नही इस currency के ऊपर किसी भी देश का अधिकार नही चलता है। दोस्तो इस करेंसी को कोई भी इंसान या देश इसको कंट्रोल नही कर सकते है।

Cryptocurrency क्या है? What is cryptocurrency?
Cryptocurrency क्या है? What is cryptocurrency?


यह करेंसी कंप्यूटर के अल्गोरिथम पर चलता है इसलिए इसको`डिजिटल मनी’ भी कहते है।जिस प्रकार जो विज्युअल मनी है इसको संचालन करने का काम उस मुद्रा से संबधित देश करता है।जैसे मानलीजिए भारत का मुद्रा रुपया है इसको संचालन या कंट्रोल करने का काम भारत ही करता हैं। इसीतरह US की बात किया जाए तो इसका कंट्रोल अमरीका करेगा, लेकिन Cryptocurrency किसी देश के रूल्स  और रेगुलेशन के हिसाब से बल्कि कंप्यूटर के अल्गोरिदम के हिसाब से चलता है जिसे Cryptography के बेस पर बनाया है।


ऐसा कहा जाता है  crypyocurrency को अभी तक कोई भी नही देखा है, जिसमे cryptocurrency को बाय करनेवाले लोग भी इसमे इस लिस्ट मे है। इस करेंसी को हम खरेदी कर सकते है और सेल भी कर सकते हैं लेकिन अपने घर या बैंक मे रख नही सकते है। जैसे यह पहले से चलते आ रहा है उसी तरह चलेंगे इसमे किसी भी प्रकार का बदलाव हमे देखने को नही मिलेगा।

Cryptocuurency जो इस दुनिया मे लाया है मेरा मतलब जिसने बानाया है वह भी कभी अपने आंखों से नही देखा है।बस यह एक सिस्टम से चलता है। Cryptocurrency की कीमत अचानक बढता है और उसी तरह गिरता भी है।इसमे ज्यादातर अमीर लोग ही इन्वेस्टमेंट करते है लोगों का मानना है कि,इसमे पैसे इनवेस्टमेंट करना जोखीम भरा काम है जो आम जनता करना नही चाहते।

Cryptocurrency की जब बाता आती है तो लोग सोचते हैं कि,इसमे सिर्फ bitcoin बिटकॉइन होगा, लेकिन दोस्तों आपको एक बात बता दू,बिटकॉइन के आलावा इस दुनिया मे बहुत सारे Cryptocurrency है।अभी बिटकॉइन के साथ साथ लोग आज इन सारे करेंसी को खरीदते है और इसी तरह बिकते भी है।इस व्यवहार मे किसी भी प्रकार की परेशानी नही होगी। लेकिन मै आपको इसके पहले  Cryptocurrency की शुरुआत कब हुआ यह बताने का कोशिश करूंगा क्योंकि बहुत सारे लोगों के मन इस तरह के सवाल आते है शायद आपके मन मे भी यह सवाल आया होगा।

Cryptocurrency की शुरुआत कब हुई?

आपको पता होना चाहिए कि सर्वप्रथम क्रिप्टो करेंसी की शुरुआत २००९ में हुई थी जो “बिटकॉइन” थी। इसको जपान के सतोषी नाकमोतो नाम के एक इंजीनियर ने बनाया था। प्रारम्भ में यह उतनी प्रचलित नहीं थी, परंतु धीरे-धीरे इसके कीमत आसमान छूने लगे, जिससे यह सफल हो गई। देखा जाए तो २००९ से लेकर वर्तमान समय तक करीबन १००० प्रकार की क्रिप्टो करेंसी बाजार में मौजूद हैं, जो पियर टू पियर इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम के रूप में कार्य करती है। इस तरह एक ‘डिजिटल मनी’ इस दुनिया मे आया है इसी कारण Cryptocurrency के दुनिया मे ‘बिटकॉइन’ नाम सारे लोग लेते हैं।

Cryptocurrency क्या है? What is cryptocurrency?
Cryptocurrency क्या है? What is cryptocurrency?


क्या आपको यह पता है? बहुप्रचलित क्रिप्टो करेंसी कौनसे कौनसे हैं। अगर आप ये जानते है तो बहुत अच्छी बात है,अगर नही जानते हैं तो कोई बात नही। जो क्रिप्टो करेंसी लोग ज्यादा मात्रा मे बाय(खरीद) और सेल(बिकना) करते है वो कुछ इस प्रकार के है।

बहुप्रचलित क्रिप्टो करेंसी

ऐसा देखा जाए तो इस डिजिटल दुनिया मे वर्त्तमान समय मे लगभग 1000 क्रिप्टो करेंसी के कॉइनस् हैं। ये सारे कॉइन्स अपने जगह सही है इसके बावजूद लोग इन सारे कॉइन्स को नहीं पहचानते है। ऐसे भी कुछ क्रिप्टोकरेंसी के कॉइन्स है जो इस डिजिटल दुनिया मे काफी प्रचलित है जैसे –


Bitcoin/बिटकॉइन:-


क्रिप्टोकरेंसी के इस डिजिटल दुनिया मे Bitcoin का नाम सबसे ऊपर आता है। इस दुनिया मे सबसें सबसे पहले Bitcoin को ही तयार और डिजाइन किया गया है। इस कॉइन को जापान के सतोषी नाकमोतो नाम के इंजिनियर ने साल 2009 मे बनाया है। 2009 इस बिटकॉइन की कीमत करीब करीब एक डडालर ($1) था।

अभी बिटकॉइन को आज सामन्य लोग भी जानते है 2009 से लेकर अभी तक बिटकॉइन का कीमत बढता ही आ रहा है। आज एक बिटकॉइन की कीमत लगभग पचास लाख (50’000000) रुपये हो गया है। इस बात से पता चलता है इस कॉइन को लेकर लोगों के मन मे कितनी क्रेजी है यह हमे समझ आता है।


Litecoin (LTC)
Litecoin भी decentralized peer-to-peer cryptocurrency है जो कि, एक open source software है।  इस कॉइन को MIT/X11 license के अंतर्गत October, 2011 में Charles Lee के द्वारा तयार किया गया है इसका मतलब यह है कि इन्होंने इसको तयार किया है,जो की पहले एक Google Employee रह चुके हैं।


इस कॉइन की बहुत सारी features Bitcoin से मिलती झूलती हैं। Litecoin की block generation की time Bitcoin के मुकाबले 4 गुना कम है. इसलिए इसमें Transaction बहुत ही जल्दी पूर्ण हो जाती हैं. इसमें Scrypt algorithm का इस्तमाल होता है Mining करने के लिए। यह भी Bitcoin के बाद लोगों को बहुत ही अकर्षित करनेवाला क्रिप्टोकरेंसी बन गया है

Dash (DASH)


Dash यह भी एक डिजिटल करेंसी है, जिसका क्रिप्टो करेंसी की दुनिया मे अपना एक नाम है।यह लगभग क्रिप्टोकरेंसी के दुनिया मे Bitcoin जैसा ही काम करता है।इस कॉइन का पहले का नाम था XCoin और Darkcoin,जिसका अर्थ होता है  की ‘Digital’ और ‘Cash’. ये एक open source, है जो peer-to-peer cryptocurrency है Bitcoin के जैसे ही।


यह भी पढे;- Guest post क्या होता है?


इस कॉइन मे Bitcoin की तुलना में  थोडा ज्यादा features मौजूद है, जैसे की ‘InstantSend’ और ‘PrivateSend’. InstantSend में Users आसानी से अपने transactions को पूर्ण कर सकते हैं वहीँ Privatesend में transaction पूरी तरह से safe होता है। इतना ही नही इसमे यूजर्स की privacy को काफी importance दिया जाता है। Dash में एक uncommon algorithm का इस्तेमाल होता है जिसे ‘X11’ कहते है,जिसकी खासियत यह है कि, यह बहुत ही कम powerful hardware से भी comfortable हो जाता है, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग अपने currency को खुद ही mine कर सकते है।

X11 बहुत ही energy efficient algorithm है, जो की Scrypt की तुलना में 30% तक कम बिजली की सेव (save)करता है।

Faircoin (FAIR


Faircoin यह एक बहुत ही बड़े grand socially-conscious vision का हिस्सा है, जो की Spain-based co-operative organization है और जिसे Catalan Integral Cooperative, or CIC के नाम से भी जाना जाता हैं।यह बिटकॉइन की blockchain technology का इस्तमाल करता है,लेकिन ज्यादा socially-constructive design के साथ दुसरे cryptocurrencies के जैसे Faircoin mining or minting new coins के ऊपर तो बिल्कुल भी निर्भर नहीं करता है।


लेकिन इस प्रोसेसिंग मे उसके जगह में यह certified validation nodes, or CDNs, का इस्तेमाल करते हैं block generation के लिए। Faircoin में coins को verify करने के लिए proof-of-stake or proof-of-work के बदले में ‘proof-of-cooperation’ का इस्तेमाल किया जाता है।


Dogecoin (Doge)


Dogecoin की बनने की कहानी काफी रोचक है, इस कॉइन को Bitcoin को मजाक बनाने के लिए कुत्ते से उसकी तुलना की गयी,जो आगे चलकर एक जाने माने Cryptocurrency का रूप ले लिया। इसके Founder का नाम है Billy Marku (बिली मार्क्यू) यह Litecoin की तरह ही काम करता है। इसमें भी Scrypt Algorithm का इस्तेमाल होता है।

Peercoin (PPC)


Peercoin जो की पूरी तरह से Bitcoin protocol पर based है जिसमें की बहुत सी Source code दोनों में मिलती झूलती हैं। इसमें transaction को verify करने के लिए केवल Proof of work पर ही मिर्भर नहीं किया जाता है बल्कि इसके साथ Proof of stake system की ओर भी देखा जाता है जिससे कि इसमे किसी भी प्रकार की समास्या पैदा न हो। हमे इस कॉइन का नाम से ही पता चलता है कि, यह कॉइन भी peer-to-peer cryptocurrency है, जो Bitcoin के जैसे ही काम करता है, जिसमें की source code को release किया जाता है। वह MIT/X11 software license के अंतर्गत काम करता है।


Peercoin यह कॉइन भी Bitcoin के जैसे ही SHA-256 algorithm का इस्तेमाल करता है. और इसमें transaction और mining करने के लिए बहुत ही कम पॉवर की जरुरत पड़ती है।

Monero (XMR)


यह  कॉइन असल मे Bitcoin के fork से पैदा हुआ है सन 2014 में। उसके तुरंत बाद मे ही यह प्रसिधी पायी है इस मुकाम पर पहुंचने के लिए इसको ज्यादा समर नही लगा है। ये cryptocurrency सभी systems जैसे की Windows, Mac, Linux, Android, and FreeBSD में अच्छी तरह काम करती है।


Bitcoin के जैसे ही Monero भी privacy और decentralization पर focus ज्यादा  करती है।Bitcoin और Monero में जो सबसे महत्वपूर्ण अंतर है वो ये की Bitcoin में high-end GPUs का इस्तमाल होता है वहीँ Monero में consumer-level CPUs का इस्तेमाल होता है।

Ripple (XRP)


Ripple यह कॉइन 2012 में release हुआ और यह एक distributed open source protocol के ऊपर based है, Ripple एक real-time gross settlement system (RTGS) है जो की अपनी खुद की Cryptocurrency चलता है जिसे Ripples (XRP) भी कहा जाता है।


यह बहुत ही ज्यादा और famous Cryptocurrency मे से एक है। और इसकी overall market cap है लगभग $10 billion. इनके Officials के अनुसार Ripple users को “secure, instant and nearly free global financial transactions किसी भी size के करने के लिए प्रदान करती है और जिसमें कोई भी chargebacks नहीं होती है।

क्रिप्टोकरेंसी के फायदे क्या है?


क्रिप्टोकरेंसी यह एक डिजिटल करेंसी है जो कंप्यूटर के अल्गोरिदम पर चलता है। जो करेंसी हम अभी रोज यूज करते है, जैसे डालर, रूपया और यूरो आदी इन सभी विज्युअल करेंसी को लोग कॉपी करते है।इन करेंसी डुप्लीकेट करेंसी बनाके भ्रष्टाचार को बढावा देते है। इतना ही ये करेंसी कई साल के बाद पूराना हो सकते है इसलिए कई साल के बाद सरकार को फिर से नया करेंसी बनाना पढेगा।


क्रिप्टोकरेंसी की बात करे तो इस करेंसी को कोई भी इंसान दुसरा डुप्लीकेट कापी नही बना सकता है।  क्रिप्टोकरेंसी यह क्रिप्टोग्राफी और कंप्यूटर के अल्गोरिदम के बेस पर हे इसे एक मशिन, सिस्टम से आपरेटिंग किया जाता है। इसलिए इस मे इस तरह का गलत काम होनी की संभावना न के बराबर है। इस जमाने मे इस तरह का डिजिटल करेंसी का इस्तेमाल करना उचित समझा जाएगा क्योंकि अपने पास जो संसाधने कम होते चले जा रहे है, इसको सही समय रहते रोकनखना जरूरी है।

क्रिप्टोकरेंसी के नुकसान ;-


क्रिप्टोकरेंसी ऐसी करेंंसी जो पूर्णतह कंप्यूटर के यह एक अल्गोरिथम के हिसाब से चलता है।अभी बात आती है क्या आम आदमी इस तरह का प्रोसेसिंग को समझ सकता है? नही ना, इसलिए बहुत सारे लोगों की इच्छा रहते हूए भी इस फिल्ड मे आना नही चाहता है। क्रिप्टोकरेंसी कीमत अचनाक बढना और घटना इसको लेकर मी लोग थोडा परेशान रहते है।इसमे सबसे सबसे बडी परेशानी यह है कि, अगर कुछ जाए अपने पैसों को लेकर तो किसी को कुछ नही कह सकते।

Kumar Piyush (CoinDCX मे अकाउंट बनाना)


क्या यह आम आदमी के लिए परेशानी नही है? है ना,जैसे हम लोग किसी कंपनी के माध्यम से जैसे coinswitch और भी कंपनियां हैं जिनके माध्याम से पैसे क्रिप्टोकरेंसी मे इनवेस्टमेंट करते है ,जिस कंपनी के माध्यम से पैसे इनवेस्टमेंट किया उसको कुछ हुआ किसी इंसान और सरकार को कुछ नही कह सकते है यह क्रिप्टोकरेंसी के दुनिया मे सबसे बडी कमियों मे से यह एक है और यह सबसे बडी भी।

लेकिन शेअर मार्केट मे जैसे Angel broking और Zerodha, Upstox और भी कंपनियों को माध्यम से पैसे इनवेस्टमेंट करते है तो कल इन कंपनियों को कुछ हुआ इनका जिम्मेदारी सरकार लेगी और अपना पैसा हमे कुछ प्रोसीजर के बाद मिलेगा।


क्रिप्टोकरेंसी के ऊपर किसी देश का यानि सरकार का कोई नियंत्रण नही है। इसमे जो पैसा कमाता है वै लोग कभी कभी सरकार को इनकम टॉक्स सही से भरते नही इससे सरकार को नुकसान होगा। इन लोगों को सरकार कुछ नही कर सकती है,क्योंकि ये लोग कितने कमाते है इसका कोई सही डाटा सरकार के पास नही रहता है और ये लोग ना ही अपना इनकम टैक्स चुकाते है इससे देश के तिजोरी मे जो पैसा आना चाहिए वो नही आ पाते

क्रिप्टोकरेंसी मे इनवेस्टमेंट करने के फायदे क्या है?


क्रिप्टोकरेंसी मे  इनवेस्टमेंट करने से हम तुरंत लाभ हो सकता हैऐसा नहीं कि, हमे किसी भी क्रिप्टोकरेंसी मे इनवेस्टमेंट करे यह काम करने के लिए हमे थोडा स्डटी करना होगा। बिना स्टडी करते हूए इसमे अपना हाथ फैलाना अच्छी बात नही है।


इसमे पैसे इनवेस्टमेंट करने के लोगों को लोगों को ना ही सरकार के कचेहरी के पास दस बार जाना होता है और ना  ही किसी वकील के पास यह जानने के लिए गूगल या यूट्यूब काफी है। इनवेस्टमेंट करने के लिए अपने पास मे एक एटीएम कार्ड, आधार कार्ड और अपना मोबाइल नंबर बैंक अकाउंट से लिंक होना जरूरी है।

Kumar Piyush


इसके साथ साथ G pay और  Phone Pay थोडा बहुत चलाना आना चाहिए। इस तरह का कंडिशन आज आम आदमी जरूर कर सकता है। अभी  के समय मे बहुत सारे लोगों के पास Android Mobile है जो कि इस काम को ओर ही आसान बना देता है। इसमे इनवेस्टमेंट करने के लिए हमे कंपनियों एप्लिकेशन (App) Google playstore मिल जाते हैं जिनके माध्यम से इनवेस्टमेंट कर सकते है, जैसे  Coin switch, CoinDCX Go और WazirX और बहुत सारे Applications हमे देखने को मिल जाते है।

क्या क्रिप्टोकरेंसी से कुछ खरेदी किया जा सकता है?

लोगों के मन मे सवाल आता है कि, क्रिप्टोकरेंसी यह एक डिजिटल मनी है जो कंप्यूटर के अल्गोरिदम से चलता है और अभी इस करेंसी को ना ही किसी ने देखा है और ना ही भविष्य मेकोई देखेगा। इसलिए आम आदमी के मन सवाल आता है कि, क्या इस तरह की करेंसी से कुछ खरेदी किया जा सकता है? इसका जवाब है हां इससे हम खरेदी कर सखता है। इसका मतलब यह नही कि,किसी भी दुकान मे जाकर  इस तरह बात करेंगे जरूर हंसने लगेंगे लेकिन कुछ कुछ बडे बडे शॉपिंग इसका भी इस्तेमाल समान लेने के लिए करते है।


अगर आप ब्लॉगिंग करते हैं है तो आप होस्टिंग के बारे मे सुना होगा तो Hostinger के बारे मे जरूर सुना होगा इस होस्टिंग कंपनी ने अपने  होस्टिंग सरव्हिस देने के लिए अभी क्रिप्टोकरेंसी का भी इस्तेमाल करेगा, इससे साफ साफ समझ मे आता है कि अभी हम अपने वेबसाइट के क्रिप्टोकरेंसी से भी होस्टिंग खरेदी कर सकते है।

क्या क्रिप्टोकरेंसी सभी कंट्री मे चलेगा? या लीगल है?


क्या क्रिप्टोकरेंसी सभी कंट्री मे चलेगा या लीगल इस तरह का सवाल एक आम आदमी केमन आना लाजमी है। क्योंकि  बार बार टीव्ही या न्यूज पेपर में. देखने को और पढने को मिलता है कि,इस कंट्री मे क्रिप्टोकरेंसी को  Ban कर दिया गया है और दुसरी ओर देखने को मिलता है इससे लाखो कैसे कमाये और लोग इससे लोग कैसे कमाते है ये दिखाने के बहुत सारे विडोओस हमे Youtube मे मिल जाते है।


ऐसादेखा जाए तो ये दोनो भी अपने अपने जगह सही है। कुछ कंट्री मे इस काइन पर बॉन(Ban) है। मै भारत मे रहने वाला हूँ। भारत मे इस क्रिप्टोकरेंसी पर बैन था लेकिन बीच एक न्यूज आया है इसके लिए दिल्ली मे या फिर कहीँ ओर इसका मॉनेजमेंट करने के लिए बैंक का निर्माण किया जाएगा लेकिन यह काम शायदा अभी तक होना बाकी है।


आप किस कंट्री मे रहते है जहाँ आप त्रहते है वहाँ पर इस करेसी पर बैन है या नही यह जान लीजिए और आगे का प्रोसेस शुरू करे। बैन है तो इनवेस्ट नही कर सकते है बैन नही तो आप इसमे इनवेस्टमेंट कर सकते है।

निष्कर्ष:-


क्रिप्टोकरेंसी मे काम करना मेरा मतलब इसमे इनवेस्टमेंट करना जोखिम भरा काम है। इसमे काम करने के लिए पहले इसकी बेसिक सीखना जरूरी है इसके बाद ही इनवेस्टमेंट करने कि बात करे। इसमे आनेवाले अनिश्चितता से हमे लाभ भी हो सकता है या फिर नुकसान भी हो सकता है। केवल रातोंरात अमीर बनने के लिए या फिर पैसे की लालच मे आकर इसमे मत आयीये पहले सोचीये और बादमे क्या करना है  देखीये।


यह भी पढे:-  Hosting क्या होता है?


अगर आपको क्रिप्टोकरेंसी क्या है इन हिंदी? |Cryptocurrency meaning in hindi यह पोस्ट अच्छा लगा तो अपने दोस्तो को जरूर शेअर करे क्योंकि इस तरह जानकारी अभी के समय मे सभी को होना जरूरी है।

Suresh Burla Sironcha Di- Gadchiroli State -Maharastra India

Leave a Reply