blogger me adsense ka approval kab milta hai

दोस्तो आज हम ब्लॉगर ब्लॉग मे ऑडसेन्स का अप्रुवल कब मिलता है blogger me adsense ka approval kab milta hai इस पोस्ट मे Blogger.com वेबसाइट मे अगर हमने ब्लॉग बनाया है,तो हमे ऑडसेन्स का अप्रुवल कब मिलेगा इसके बारे मे बताने वाला हूँ। आज बहुत सारे लोग ब्लॉगींग करना चाहते है लेकिन उनके मन विचार आता है कि,अपना ब्लॉग कोनसा प्लाटफार्म मे बनाया जाए।ब्लॉगींग के बहुत सारे प्लाटफार्मस् है लेकिन लोग सबसे ज्यादा blogger और WordPress मे से किसी एक प्लाटफार्म मे अपना ब्लॉग बनाना चाहते हैं।

blogger me adsense ka approval kab milta hai :-

आज ज्यादा तर लोग ब्लॉगींग को एक हॉबी के बजाय अपना करीयर बनाना ज्यादा पसंद करते हैं, क्योंकि आज लोग एक गुलाम के तरह किसी बॉस के पास काम करना नही चाहते है। आज के युवाओं को अपने इच्छा के अनुसार काम करना है और इंटर नेट से पैसा कमाना है जिसके लिए लोग Blog और Vlog बनाने मे इंट्रेस्ट दिलचस्प रखते है। आज बहुत सारे लोग भी अपने समास्याओं का समाधान ढूंढने के लिए गूगल या यूट्यूब का सहारे लेते हैं।लोगों को पता है अपने समास्याओं का समाधान करने के लिए किसी के पास समय नही है जिसके लिए हमे गूगल या फिर की,यूट्यूब का सहारा लेना ही पडेगा।लोगों यह भी पता हे कि,इन दोनो मे से सौ परसंट सही जानकारी हमे गूगल से ही मिलता है।इसलिए विडोओ टुटोरियल के जमाने मे भी लोग ब्लॉग पढना पसंद करते हैं।

यह भी पढे:- ब्लॉग के लिए डोमेन नेम बाय करना जरूरी है क्या?

आज भी ब्लॉगींग मे स्कोप है मगर हमे सही तरीके से काम करना होगा, इसमे काम करने के लिए थोडा बहुत पहले प्लानिंग करना पडेगा, ब्लॉग लिखने के पहले हमे किवर्ड रिसर्च करना होगा। इसमे हमे यह समझ मे आयेगा कि,हमने जो ब्लॉगींग के लिए नीश चुना है इससे रीलेटेड गूगल मे लोग क्या सर्च कर रहे है।इसके लिए key words research tool का इस्तेमाल करना चाहिए।यह काम आप फ्री मे भी कर सकते हैं और पैसै खर्च करके भी कर सकते हैं।

पहले पहले जो ब्लॉगींग करने आते हैं उन्हे कभी कभी यह पता ही नही रहता कि,किवर्ड फाइंड करने के लिए कोई टूल फ्री मे भी मिल जाता है, लेकिन किवर्ड रिसर्च करने के लिए फ्री टूल्स भी अवाइलेबल है जैसे Google key word planer यह एक गूगल का ही फ्री टूल जिसका इस्तेमाल कोई भी ब्लॉगर फ्री मे कर सकता है।इसके आलावा बहुत सारे key words research tool मिल जाते हैं लेकिन हमे जिनके लिए पैसै करना पडेगा जैसे कि, semrush, Ahrefs और ubersugests लेकिन यह सभी पेड है।इनका इस्तेमाल करने के लिए एक बिगिनर ब्लॉगर नही पुराता ।इनका इस्तेमाल करने के लिए ब्लॉगर्स को करीब करीब एक महीने के लिए सात हजार रूपये देना पडेगा जो नये ब्लॉगर्स के लिए काफी ज्यादा अमौंट है।इन टूलस का इस्तेमाल करने के लिए एक ही फ्रि तरीका है जो नये ब्लॉगर्स अपना कर कुछ समय के किवर्ड रिसर्च कर सकते हैं।बस चौदा दिनों के लिए सइन अप करके युज कर सकते हैं।पहले ubersugests आधा फ्री हुआ करता था लेकिन अभी नही रहा इसके लिए भी हमे पैसा पे करना पडेगा।

यह भी पढे:-ब्लॉग क्या है और ब्लॉगींग के फायदे क्या है?

ब्लॉगर मे ऑडसेन्स अप्रुवल के लिए क्या करे?/Blogger me adsense approval ke liye kya kare :-

Blogger मे अपने ब्लॉग मे ऑडसेन्स अप्रुवल लेनेकेलिए हमे थोडा बहुत मेहनत करना पडता है,अगर अपना ब्लॉग ब्लॉग स्पाट डोमेन पर है तो हमे और भी ज्यादा काम करना पडेगा।ब्लॉग बनाने के बाद हमे कम से कम छह महीने तो रुकना ही पडेगा तब जाकर ऑडसेन्स के लिए अपना ब्लॉग अप्लाई करे।ब्लॉग ऑडसेन्स के लिए अप्रुवल के अपने ब्लॉग मे कम से कम बीस पच्चीस क्लॉलिटी पोस्ट होना जरुरी है।ब्लॉग मे ऑडसेन्स अप्रुवल लेने के लिए कुछ पाइंट्स पर हमे द्यान होगा, अगर आप यह करते हो तो आपको सौ परसंट अपना ब्लॉग मे ऑडसेन्स अप्रुवल मिल जाएगा।

अपनेब्लॉग के लिए पेजेस बनायीये /apane blog ke liye pages banaiye :-

अपने ब्लॉग मे ऑडसेन्स अप्रुवल लेनेकेलिए अपने ब्लॉग मे कुछ पेजेस बनाना होगा, इन पेजेस के बगर हमे अपना ब्लॉग पर गूगल ॉऑडसेन्स का अप्रुवल नही मिलेगा।इसका अप्रुवल लेने के लिए कोनसे पेजेस बनाऩा यह हम देखते है।

यह भी पढे:-ट्रावेल ब्लॉग बनाने से पहले क्या करे?

About us :-

ब्लॉग ऑडसेन्स अप्रुवल के लिए अप्लाई करने के पहले हमे एक About us पेज बनाना होगा, जिससे गूगल को आपके बारे समझ ने मे आसानी होगी।इतना ही नही इससे अपने ब्लॉग पर आनेवाले विजिटर को आपके बारे मे सटिक जानकारी मिल सकती है।अभी आपको थोडा बहुत समझ मे आया होगा मै क्या कहने जा रहा हूँ।आपको इस पेज मे आपके बारे मे ही लिखना है इसमे कुछ नया लिखने की जरुरत नही है।आप क्या करते हैं और आपका एडुकेशन कहाँ तक हूआ और किसी अपना सोसल मिडिया प्रोफाईल का लिंक इसमे दे सकते है।

आपको इस ब्लॉग मे क्या लिखना चाहते हैं और आपका ब्लॉग का नीश क्या है ये सब हमे अपने ब्लॉग केAbout us पेज मे लिखना होगा।और इसीके साथ साथ अपने सोसल मिडिया प्रोफाइल आयडी और आपके एडुकेशन आदी इसमे लिखना चाहिए।आपका About us page आप अपने ब्लॉग जिस भाषा मे लिखते है हो सके तो उसे भाषा मे लिखे यह आपके लिए और भी फायद होगा।ऐसा नही यह काम आपके लिए कंपलसरी है आप अंग्रेजी मे भी लिख सकते है।

Web beast

Contact us :-

ब्लॉग बनाने के बाद हमे एक कंट्याक्ट अस (Contact us) फार्म बनाना जरूरी होता है।ब्लॉग विजिट करने के बाद अगर विजिटर को अच्छा लगा तो हमे अपने ब्लॉग के कंट्याक्ट फार्म के द्वारा कंट्याक्ट कर सकते हैं।इसलिए ब्लॉग मे यह होना चाहिए और बादमे इसे अपने ब्लॉग के मेन मेन्यू ऑड करना चाहिए।यह हमे हमें खुद बनाने की जरूरत नहीं है गूगल मे conact us form generator टायप करके सर्च करने से बहुत सारे बेबसाइटस दिखाई देंगे बस आपको पहले जो वेबसाइट दिखा उसके उपर क्लिक करके अपने ब्लॉग के लिए कंट्याक्ट अस फार्म बना सकते है।

यह भी पढे:-ब्लॉग मे internal links क्या होते हैं?

अगर ब्लॉग वर्डप्रेस मे है तो कंट्याक्ट फार्म बनाने के लिए प्लगिनस मिल जाएंगे जिस से कंट्याक्ट अस फार्म क्रिएट कर सकते हैं।ब्लॉग कहींपे भी हो हमे यह अपने ब्लॉग के लिए बनानाजरूरी है।

Privacy policy :-

प्राइवेसी पॉलिसी बनाने के लिए हमे कोई परेशानी नही है क्योंकि यह हमे Privacy policy generat गूगल मे जाकर जेनरेट कर सकते है।इससे फ्यूचर मे किसी भी प्रकार की समास्या न होनेवाला है। अगर हमे यह खुद बनाना है तो बना सकते हैं नही तो गूगल मे जेनरेट भी कर सकते है यह आपके उपर डिपेंड है।कैसै भी करे लेकिन यह अपने ब्लॉग मे होना जरूरी है।

Terms and conditions:-

यह पेज भी ब्लॉग मे होना अनिवार्य है, ब्लॉग जो विजिटर्स आते हैं तो उनके उनके लिए क्या रूल्स है, कंडिशनस है इसके बारे मे हमे एक बनाना है जिसे टर्मस ऑंड कंडीशन पेज कहलाता है।ये सभी वेबसाइट्स के लिए एक जैसे ही रहते है ये ब्लॉग के अनुसार इसमे बदलाव हो सकते हैं।

Disclaimer :-

Disclaimer पेज होना जरूरी नहीं है लेकिन हमे अपना ब्लॉग मे क्रिएट करना होगा क्योंकि कभी कोनसा रूल्स आते हैं पता नही इसलिए हमे इसको अपने पेज मे जरूर रखना चाहिए।इसको भी हम अपना ब्लॉग पर यूज करना चाहिए।

Google search console blog submit करे :-

ब्लॉग बनाने के बाद हमे अपना ब्लॉग को सोसल मिडिया के अकौंट पर शेयर करे जिससे ब्लॉग पर जल्दी ट्रापीक आनेकी संभावना होती है।सबसे पहले अपना ब्लॉग को Google search console मे अपना ब्लॉग को सबमीटकरना चाहिए और इसीके साथ साथ ब्लॉग का साइट मॉप भी सबमीट करना चाहिए इससे आपके पास एक ब्लॉग है यह गूगल को पता चलेगा।और गूगल धीरे धीरे पोस्टस् को इंडेक्स होने लगेंगे और ट्रापीक भीआयेगा।

ब्लॉग को सही तरीकेसे कस्टामाईज करे:-

ब्लॉग को सही तरीके से कस्टामाईज करे, ब्लॉग को सही तरीक़े कस्टामाईज और सही तरिके के से ब्लॉग मे मेन मेनू विजिटर को दिखाना चाहिए।

अगर आप ये सभी काम सही तरीके से करते हैं तो निश्चित रूप से www.blogger.com के वेबसाइट पर जो ब्लॉग बनाया है उन सभी को ऑडसेन्स का अप्रुवल मिलेगा।

कंटेंट युजुफुल होना चाहिए:-

ब्लॉग जो कंटेट पब्लिश किया जाता है वो सारे युजुफुल होना जरूरी है, पोस्ट ऐसा लिखना चाहिए जिससे युजर का समाधान होना चाहिए।विजिटर कोई कोई समास्या लेकर आते है जिसका समाधान उन्हे चाहिए होता है वह अपने ब्लॉग होना चाहिए।ब्लॉग मे किसी ना किसी समास्या का समाधान मिलना चाहिए।इसलिए गूगल ऑडसेन्स का टिम ब्लॉग अप्रू करने के पहले ये सब देखते हैं।अगर इस तरह के पोस्ट अपने ब्लॉग मे नही है तो गूगल का अप्रुवल मिलेगा।

Unique blog post

इस तरह के ब्लॉग पोस्ट ब्लॉग मे पब्लिश करना चाहिए जो गूगल मे नही हैं ,ब्लॉग मे अपने खुद का लिखा हुआपोस्ट होना चाहिए।इससे अपना पोस्ट गूगल मे रॉंक भी जल्दी हो जाएंगे और गूगल ऑडसेन्स का अप्रुवल भी मिल जाएगा।इस तरह अगर आप पोस्ट लिखोगे तो Blogger मे भी जल्दी अप्रुवल मिल जाता है।

Do not use copyright images :-

ब्लॉग मे भूलकर कर भी काफीराईट इमेजेस का इस्तेमाल नही करना चाहिए।ब्लॉग ब्लॉगर मे हो या वर्डप्रेस इससे कोई फर्क नही पडता।बस ब्लॉग मे फ्री इमेजेज या फिर खुद का इमेजेस होना चाहिए।इसके लिए आप Pixaby का यूज कर सकते है।कोई भी इमेज फ्री मे डउनलोड करके अपने ब्लॉग यूज कर सकते हैं।

Light weight and responsive theme:-

अपने ब्लॉग के लिए एक हलका थीम यूज करना चाहिए यानि यूजर फ्रेंडली होना चाहिए और मोबाइल फ्रेंडली भी होना चाहिए।आज बहुत सारे थीमस दिखने के लिए अट्राक्टिव है लेकिन हलके नही है इसलिए ऐसे थीम अपने ब्लॉग मे नही रखना चाहिए।इससे अपना ब्लॉग का स्पीड कम हो सकता है क्योंकि ये थीम लोड होने मे टाईम लेता है।ऐसे ब्लॉग गूगल कभी रॉंक नही करता इसलिए ऐसी गलतियां नही करना चाहिए।यह आगे जाकर बहुत सारे समास्या क्रिएट कर सकते हैं,जैसे गूगल ऑडसेन्स का अप्रुवल, गूगल ऑडसेन्स का अप्रुवल देने के लिए ये सब देखती है इसलिए इसका तयारी एक ब्लॉगर के नाते पहले से करना चाहिए।

अगर आपको blogger me adsense ka approval kab milta hai यह कंटेट अच्छा लगा तो अपनै दोस्तो मे शेयर करे और इसी के साथ साथ इसमे जो कमियां है इनके बारे मे कंमेट करो।ताकि मै इसमे कुछ हद तक इंप्रूवमेंट कर सकू।

Suresh Burla Sironcha Di- Gadchiroli State -Maharastra India

Leave a Reply