Blog se paise kaise kamaye? Hindi

आज मै आपको Blog se paise kaise kamaye? इस पोस्ट के माध्यम से हमे ब्लॉग बनाने के बाद क्या करना चाहिए, जिससे कि हमारी कमाई हो।ब्लॉग से कमाने के बहुत सारे तरीको होते हैं, मगर हमे सही तरीके से इंप्लिमेंट करने की कला मालूम होना चाहिए।वैसे बहुत सारे ब्लॉगर्स आज बहुत सारे तरीके से कमाते हैं।आज बहुत सारे लोग आनलैन पैसे कमाने के लिए सोच रहे है।

आनलाइन पैसे कमाने के लिए कई सारे रास्ते हमारे पास है, जैसे यूट्यूब, फेसबुक पेज, और ब्लॉग आप किसी क्षेत्र मे पारंगत हासिल की है, आप महारथ हासिल की हो और इस अपने ज्ञान को दुनिया के साथ शेयर करना चाहते है, इस ज्ञान को सबको देना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास दो विकल्प मोजूद है।एक विडोओ के द्वारा अपने ज्ञान को लोगोंको दे सकते है।इसके लिए आपको ज्ञान के साथ साथ विडोओ एडिटिंग की कला भी जरुरी है।

आप कॉमेरा के साथ कंफरटेबल फील करते हैं तो आप बेशक अपने एक युट्यूब चॉनेल बना सकते है और इससे पैसे भी कमा सकते हैं।इस काम के लिए आपको किसी भी तरह का खर्च करने की जरूरत नही है, आप फ्री मे अपने चॉनेल बना सकते है।यूट्यूब के माध्यम से हम जल्दी ही फेमस होते है अगर अपने कंटेंट अच्छे हो तो क्योंकि युट्यूबर्स ऑडीयन्स सामने दिख रहे होते है।

युट्युब से कमा तो सकते है लेकीन इसके साथ जाने के लिए हर कोई अपने को कंफरटेबल फील नही करते है।कुछ लोग ज्ञान तो बांटते है मगर वो लोगोंको अपने चेहरे नही दिखाने चाहते है उनके लिए युट्युब परेशानी हो सकते है।

इसके बाद साथ साथ युट्यूब मे कुछ मर्यादा भी है जिसमे यूट्यूब का पालिसी अगर अपने चॉनेल यूट्यूब नियामोंका उल्लंघन करता है तो अपने चॉनेल को बिना सूचना देते हुए बंद कर सकता है जिससे अपने कई महिने, सालोंका अपने कमाई छंद मीनट मे खात्म हो सकता है।क्योंकि अपने चॉनेल का ओनर हम नही बल्कि यूट्यूब होता है अगर यूट्यूब चाहे तो अपने चॉनेल कभी भु बंद कर सकता है।

Add network –

युट्यूब से पैसे कमाने के लिए सिरफ हमे गूगल ऑडसेन्स का ही यूज कर सकते हैं, अगर आप अपने यूट्यूब चॉनेल मे गूगल ऑडसेन्स का इस्तेमाल करता है तो अपने यूट्यूब चॉनेल मे गूगल हमेशा advertise दिखाई देगा इसकी कोई शाश्ती नहीं है।

Blog se paise kaise kamaye? Hindi – (click to tweet)

Ad network-

अगर आप अपने ब्लॉग से पैसे कमाना चाहते है तो आपको बहुत सारे मार्ग या आपशन आपके पास होंगे,जिसमे advertise का आपशन सिंपल और बेस्ट तरीका है।सबसे ज्यादा ब्लॉगर्स अपने ब्लॉग को monetize करने के इसका इस्तेमाल ज्यादा करते हैं।अपने ब्लॉग को monetize करने के लिए हमे बहुत सारे वेबसाइटस मिल जाते है जिनके माध्यम से हम अपने वेबसाइट का मोनाटैज आसाने कर सकू।लेकिन कुछ वेबसाइटस है जिनके माद्यम से हम हर महिने अपने परिवार के लिए कुछ पैसे कमा सकू। 9

मै कुछ ad network का वेबसाइट का नाम बताने वाला हूँ जिनके माद्यम से आप अपनी वेबसाइट से अच्छी काशी कमा कर सकते ह़ै।आज लगबग यह पूर हो गया है की इसलिए कुछ मै अपनेहिसाब से कुछ ad netwpworवेबसाइट का नाम मै बताने वाला हूँ।जिससे अपना ब्लॉग से आसानी/सेआसानिसे कमा स के

Google Adsense-

Ad networking कंपनी मे google adsense सबसे अच्छी और सास्ती होस्टिंग प्रोवाइड करनेवाले कंपनियों मे से यह एक है । यह गूगल का ही कंपनी है यह एक ट्रस्टेड कंपनी है इसलिए बहुत सारे ब्लॉगर्स इससे अपने वेबसाइट मोनाटाईज करने के लिए तरसते है।

यह भी पढेब्लॉग कैसै बनाए?

ब्लॉग बनाने के बाद हमे इसका अप्रुवल लेना पडता है इसके लिए हमे गूगल मे जाकर Google Adsense टाइप करके सर्च करो तो आपके सामने एक नया ओपन होगा।नही तो अपने ब्लॉग को adsense अप्रुवल के लिए कब अप्लाई करना है यह समझ ने के लिए आप इस इस विडोओ का सहरा भी ले सकते है, ताकि आपको पूरे प्रोसीजर जल्दी समझ मे आये।

Google Adsense अप्रुवल लेने के लिए पहले अपने ब्लॉग में क्या करना चाहिए यह समझ लेना बहुत जरूरी है।

  • एक About us
  • अपने ब्लॉग मे एक हजार वर्डस का मिनिमम 20 पोस्ट होना जरुरी है।
  • Contact us.
  • Privacy policy
  • Disclaimer
  • Terms &Condition
  • Responsive theme
  • Mobile friendly theme
  • SSSL Certificate
  • Cotagories कमसे कम 6होना चाहिए
  • सही तरीके से मेनू बार बनाना चाहिए
  • ब्लॉग का डिजाइन थोडा अच्छा होना भी जरूरी है
  • अपने वेबसाइट को google search Console मे अपने वेबसाइट को सबमिटकरना जरूरी है।

Affiliate market:-

Affiliate market क्या होता है?

अफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए किसी भी ब्लॉगर को पहले अफिलिएट मार्केटिंग के बारे मे जानना होगा।किसी भी कंपनी को अपने प्रोडक्ट को सेल करने के लिए, अपने प्रोडक्ट बिकवाने के लिए एडस, का सहरा लेना पढेगा।जब आप अपने प्रोडक्ट का advertise नही करोगो तो लोग प्रोडक्ट के बारे मे सुनेंगे, देखेंगे और सरव्हीस या प्रोडक्ट को खरेदी करेंगे, जिसके के लिए advertiser को पैसा खर्च करना पढेगा।

कुछ कंपनियों ने अपने प्रोडक्ट या सरव्हीस को जादा लोगों के पास पहुंचाने के लिए advertisement की और भी एक नये तरीका खोजा है, जिसका नाम है Affiliate इसका माध्यम से भी अपने सरव्हीस, प्रोडक्ट को लोगों के पास पहुंचाया जाता है और उन्हें पसंद आया तो खरीदी भी करते है।अपने सरव्हीस, प्रोडक्ट बिकवाने के लिए एक कंपनीज़ एक अफिलिएट प्रोग्राम शुरू करते है,जिसने इस प्रोग्राम मे सइन अप (join) किया उनके लिए एक सेप्रेट एक लिंक दिया जाएगा जिससे कोई मेरा मतलब जिस लिंक से कोई प्रोडक्ट खरेदी करेगा तो जिसने इसमे सइन अप किया है उसे कुछ परसेंट कमिशन कंपनी के ओर से मिलेगा।

यह भी पढे-Best hosting provider companies top 5

इससे कंपनी को भी फायदा होगा और इसके साथ साथ अफिलिएटर कै भी फायदा होगा, क्यों की इन कंपनीयों को Google Ads, Medea. net, ऐसे बहुत सारे ad network कंपनियां है जो प्रोडक्ट को लोगों को दिखाने के लिए advertiser के पास से बहुत सारे पैसे लेते है।अगर किसी युट्यूबर्स, ब्लॉगर्स अपने युट्यूब या ब्लॉग दिखा के माध्यम से किसी कंपनी के प्रोडक्ट या सरव्हीस को अपने ब्लॉग पर दिखा के सेल करते है तो आपको कुछ कमिशन दिया जाएगा जो कंपनी के लिए बहुत छोटीसी रक्कम होगी।

ब्लॉग से पैसे कमाने का यह भी एक अच्छी तरीका है, अफिलिएट मार्केटिंग करने के हमे सबसे एक नीश चुनना होगा।ऐसा नीश(topic) चुनना होगा जिसमे कंपटीशन कम हो नही तो आपके ब्लॉग पर ट्राफिक नही आने की चानसेस रहती हैं, इसलिए कम कंपटीशन वाला ही नीश चुनना चाहिए।अफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए हमे अपना वेबसाइट का नाम अपने प्रडक्ट से रिलेटेड होना चाहिए ताकि गूगल को अपने ब्लॉग को जाननेके लिए,समझ ने के लिए किसी भी प्रकार का समास्या न हो।

Affiliate market शुरू करने के लिए कुछ वेबसाइटस-

अफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए हमारे सामने बहुत सारे वेबसाईट्स है जहांसे अच्छी कमाई हो सकती है।हमे ऊन्ही वेबसाइटों से अपने अफिलिएट मार्केटिंग शुरू करना चाहिए जिसमे अपने विश्वास पात्र आदमी पहले से ही काम कर रहे हो वर्ना आप बादमे पश्ताओगो।हमे इस तरह वेबसाईट्स भी मिल जाएंगे जहाँ से हम अच्छी तरह कमाई कर सकते है।

यह भी पढे-ब्लॉग के लिए बेस्ट अंड चीफ होस्टिंग कंफनी

ऐसे तो हम किसी पार्टीकुलर वेबसाईट्स मे जाकर अपने नीश से रिलेटेड प्रोडक्ट का लिंक लिंक अपने ब्लॉग मे लगाकर अपने आडीयन्स को इस प्रोडक्ट इस Produc खासियत बताकर उन्हे लेनेकेलिए प्रोतसाईत करते हैं, अगर सी नेअगर किसी ने खरेदी कर कर लिया तो तो अपने पहले का होस्टिंग नहि रहेगा।

अफिलिएट मारकेटींग करने के लिए हमे अलग अलग वेबसाईट्स मे जान नेकी कैई जरूरत नहीं हमे अलग अलग अलग वेबसाइटों मे जानेकी कोई जरुरत नहीं हैमे ऐक ही वेबसाइट मे बहुत सारे advertiser मिल जाएंगेऔर हमे अपने हिसाब से अपना पसंदिदा कंपनी का अपना Affiliate लिंक लगाते हैं इस से इनका भी कभी कभी अर्निंग हो जाता है।

अपने ब्लॉग से पैसे कमाने का यह भी एक तरीका है लेकिन इसके लिए आपको थोडा बहुत समय लग सकता है।ब्लॉगर्स को शुरुआत के दौर मे किसी स्पानसर के ओर से ऐसे ऑफर आनेकी चानसेस बहुत कम रहता है।

यह भी पढे-डोमेन नेम क्या है?

पहले पहले अपने ब्लॉग के लिए Sponsor पोस्ट लाने के लिए अपने ब्लॉग का डी.ए.और पी.ए काफी अच्छा होना चाहिए।तभी आपको Sponserd पोस्ट का ऑफर मिल जाएगा।इसके लिए आपका ब्लॉग कम से कम एक दो साल पुराना होना चाहिए और इसी के साथ साथ अपने ब्लॉग मे कम से कम पच्चास साठ क्वालिटी पोस्ट होना जरूरी है।

अपने ब्लॉग मे पोस्ट के क्वांटिटी के बजाए क्वालिटी होना चाहिए अगर ऐसा नही है तो कोई अपने पोस्ट को पढेंगे नही, कोई पढेंगे नही तो पोस्ट कभी गूगल टॉप टेन अपना पोस्ट दिखेगा ही नही।जब हमारा पोस्ट गूगल मे रॉक करता ही नहीं है तो ब्लॉग मे ट्रापीक बहुत कमहो सकता है।इस से स्पानसर को अपने ब्लॉग से किसी भी प्रकार का फायदा नही होगा।इसलिए स्पानसर्ड पोस्ट के लिए क्वालिटी पोस्ट होना बहुत ही जरूरत हभी

कोई भी स्पानसर यह नही चाहता की किसी ऐरा गैरा ब्लॉग मे अपने पोस्ट पब्लिश हो, जिसके बदले मे कुछ पैसे भी देना पडे। इसलिए स्पानसरस अपने टुलसब्लॉग का D.A और P.A चेक करते है और बादमे ब्लॉगर को स्पानसर्ड पोस्ट का ऑफर देना है या नही यह निश्चित करते है।इस प्रोसीजर के लिए थोड़ा बहुत समय लग सकता है अगर किसी का ब्लॉग इसमे क्वाँलीफाईड हो जाते हैं तो उन्हें यह ऑफर मिलेगा जिसके बदले पैसे मिलेंगे।

Sponsord post के लिये अवश्य कोशिश करे :-

हमे स्पानसर्ड पोस्ट के लिए अवश्य कोशिश करना चाहिए, ऐसा नही की हमे स्पानसर्ड पोस्ट का आपशन आ जाएंगे और हम पैसे कमा पाएंगे इस तरह के विचार मे बिल्कुल नही रहना चाहिए।इसके लिए हमे अवश्य कोशिश करना चाहिए, जिस नीश पर अपना ब्लॉग है उस से प्रोडक्ट या सरव्हीस प्रोवाइड करनेवाले कंपनीयों से डॉरेक्ट बात करना चाहिए।हमारे ब्लॉग नया है, इसमे ट्रापीक ज्यादा नही है इस तरह के विचार से परेशान बिल्कुल नही होना चाहिए।

अपनो जो ब्लॉग है जिस नीश पर आधारित है ठीक इसी तरह केनीश पर जो ब्लॉगस है और वो गूगल अडसेनस जैसा बढे ad network कंपनी से अप्रोवड है।उन ब्लॉग्स को विजिट करना चाहिए और इनमे किस तरह के ऑड्स आता है यह पहले देख लेना चाहिए।उनके ब्लॉग पर जो ऑडस आता है, इन प्रोडक्टस् कंपनी का जो ओनर है उनसे डॉरेक्टकंट्याक्ट करना चाहिए और उन्हें यह बताना चाहिए आपका जो प्रोडक्ट है उनसे रीलेटेड पोस्ट पब्लिश करता हूँ।

अगर आप अपने प्रोडक्ट को हमारी वेबसाइट पर ऑडवरटाईज करना चाहते तो आपके पास इतना फीस मै एक साल के लिए लेता हूँ।हमारे ब्लॉग के कईं सारे पोस्ट गूगल के दस पोस्ट मे हमारी भी है।अगर आपके पास इच्छा है तो मुझे कंटेक्ट करे और बाकी के बारेंरेमे ऑडवरटाईज को यह भी बताना होगा कि मेरे ब्लॉग पर इतना ट्रापीक आता है, मेरे वेबसाईट का follow फाँलैअरस अभी कम है लेकिन उसकोआगे बढाके नेके लिए मै हर संभव कोशिश करुंगा।

गेस्ट पोस्ट(Guest Post):-

ब्लॉगर्स गेस्ट पोस्ट के माध्यम से भी पैसे कमाते हैं, आपको लगता होगा यह कैसे संभव होगा?हां यह संभव है, यह कैसे संभव है यह मै आपको बताने वाला हूँ।आप अभी ब्लॉग बनाने के लिए सोच रहे होंगे और इससे कमाने के लिए भी सोच रहे होंंगे लेकिन आपको इसके साथ साथ यह भी पता है कि यह काम करने के लिए मुझे समय लग सकता है।क्योंकि अपना ब्लॉग का किसी भी प्रकार का हाई अथॉरिटी है नही कोई फालोअर्स है तो फिर मै अपने ब्लॉग से पैसे कमाऊ।

यह भी पढे- ब्लॉग के लिए पिक्सेल लॉब से इमेज कैसै बनाए?

आपको पता है आपको यह काम करने के लिए ब्लॉग का अथारिटी बढानी होगी तब जाकर अपने ब्लॉग गूगल मे रांक करेगा अनयथा नही।अपने ब्लॉग पोस्ट को गूगल मे रॉंक करने के हर संभव कोशिश करेगा,जैसे फोरम सइट पर जाके अपना फ्रोफाइल बिल्ड करना,अपने ब्लॉग पोस्ट शेयर करना,और अपने ब्लॉग का लिंक हर सोसल मिडिया प्लाटफार्म मे शेयर करना ये काम हम सिर्फ इसलिए करते है ताकि अपने ब्लॉग पर ट्रापीक आये इसका मतलब अपने ब्लॉग पोस्ट कोई पढे।

ब्लॉग पोस्ट rank करने के लिए यह सब काम करते समय यह भी हमे सुनने मे या पढने मे आता है कि पोस्ट को rank करने के लिए अपने वेबसाइट से रिलेवंट (relevant) ब्लॉग मे हमे गेस्ट पोस्ट लिखना पढेगा जिससे हमे एक युनिक बॉकलिंक मिल जाएगा जिससे हमारा ब्लॉग अथॉरिटी बढेगा।इसमे आपको ध्यान देनेवाला बात यह है कि हमे बॉकलिंक लेनेकेलिए पहले यह सोचना पढेगा कि हम जिस ब्लॉग से बॉकलिंक ले रहे है उसका D.A. P.A मिनिमम 20 से ज्यादा और स्पॉम स्कोर ज्यादा से ज्यादा 2 इससे ज्यादानही होना चाहिए।अगर ऐसा नहीं है तो आपका ब्लॉग के लिए सही नही नही है, स्पॉम स्कोर ज्यादा रहा तो गूगल आपके सइट पर पॉनलटी लगा सकता है।

जब हम अपने ब्लॉग पोस्ट को rank करने के लिए ऐसे ब्लॉग्स को ढूंढते हैं तो इस काम के लिए यानि Guest post लिखने के लिए कुछ पैसे मांगते है जो हमे पे करना ही पडता है।ऐसा नही सभी ब्लॉगर्स इस काम के लिए पैसे लेंगे।कोई अपने ब्लॉग पर फ्री में गेस्ट पोस्ट लिखने देते हैं तो कोई पैसे लेते हैं।यह काम ब्लॉगर्स पर निर्भर रहता है।लेकिन यह बात तो साफ है कि इससे ब्लॉगर्स पैसे तो कमाते हैं।

यह भी पढे-ब्लॉग के लिए कस्टम इमेजेस कैसै बनाए?

गेस्ट पोस्ट से पैसे कमाने के लिए समय तो जरूर लगेगा क्यो कि इसके लिए नये ब्लॉगर्स ब्लॉग D.A (domain authorities)और P.A (page authorities) देखते हैं।ब्लॉग का डी.ए और पी.ए 20 से ज्यादा करने के लिए समय लगेगा।अगर आपके ब्लॉग मे ये सभी ठीक है तो कोई भी ब्लॉगर्स पैसै कमा सकते हैं केवल आप ही नही।बस थोडा इसके लिए हमे इंतजार करना पढेगा।

अगर किसी ब्लॉगर का ब्लॉग का D.A और P.A और 50 से ज्यादा है और अपने ब्लॉग का स्पॉम स्कोर केवल एक या 2 है तो निश्चित रूप से गेस्ट पोस्ट के लिए पैसे लेते है।इसके लिए पे करने के नये ब्लॉगर्स तयार रहते हैं क्यों कि उन्हें अपने ब्लॉग पोस्ट को rank करना होता है।इसी तरह गेस्ट पोस्ट के माध्यम से ब्लॉगर्स कमाते हैं आगे कमाते भी रहेंगे।

Online Courses :-

बहुत सारे ब्लॉगर्स ऐसे भी है जो अपने ब्लॉग पर किसी भी ऑड नेटवर्क (ad network) का ads अपने ब्लॉग पर नही इस्तेमाल करते है,जिसमे गूगल ऑडसेन्स क्यों न हो।अपने ब्लॉग का मोनाटाटैज करने के लिए इन्हें इस तरह के किसी भी ऑंड नेटवर्क की जरूरत नही है।ये लोग अपने ब्लॉग से कमाने के लिए अपने ब्लॉग मे ऑनलाइन कोर्सेस ऑंड करते है ओर इसीसे पैसा कमाते हैं।

यह भी पढे-डोमेन क्या है?इसे कहासें बाय करे?

आज बहुत सारे लोग जैसे ऑनलाइन पढने के लिए आते हैं ठिक इसी तरह ऑनलाइन कोर्सेस भी जाइन करते हैं।इसमें अलग अलग तरह के कोर्सेस हो सकते है, जैसे (Digital marketing) डिजिटल मार्केटिंग,अफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate marketing),ब्लॉगिंग (Blogging), ऑनलाइन कोचिंग,(Online coching) और ऑंड्राईड स्टुडियो(Android studio) आदी।

डिजिटल मार्केटिंग/Digital marketing :-

ऐसे बहुत सारे डिजिटल मार्केटिंग कोर्सेस है, जो हमे पैसै देकर सीखना पडता है, आप सोचते होंगे कि ये हमे यूट्यूब पर मिल जाएगा,लेकिन एऐसा बिल्कुल नही है।ये कोर्सेस पैसै देखर ही सीखना पढेगा। यूट्यूब मे यूट्यबर बढी चलाकी से केवल बेसीक नालेज ही बताएंगे।बाकी सब सीखने के लिए हमे किसी के पास जाकर सीखना ही पढेगा, जिसके लिए पैसा पे करना पढेगा।

ऑनलाइन बिजनेस कैसे करते हैं इसके लिए क्या क्या करना पडता है ये छोटे छोटे बाते इन कोर्सेस मे सीखाएंगे जो बहुत ही इंपार्टेंट है।हमे लगता है यह काम आसन है लेकिन ऐसा है नही। फार एक्जांपल किसी प्रोडक्ट को बेचने के लिए हम केवल ऑडवरटाईज करते हैं लेकिन प्रोफेशनल डिजिटल मार्केटर्स पहले फ्री दिखाते और बादमे पेड वाले लेने के लिए हमे मजबूर करते हैं।

अफिलिएट मार्केटिंग/Affiliate marketing :-

आज बहुत सारे ब्लॉगर्स अफिलिएट मार्केटिंग से कमाते हैं लेकिन अफिलिएट मार्केटिंग कैसे किया जाए, और अपने ऑडीयन्स से अपने अफिलिएट लिंक से लेनेकेलिए कैसै मजबूर करे।जिसके बारे में लिखते हैं या फिर बताते है उस प्रोडक्ट के उफर लोगों को भरोसा नही है।ऐसे लोगों को कैसे समझाये ये सब बाते इसमे बताते और फीस लेते हैं।

ऑनलाईन कोचिंग/Online coaching:-

आज बहुत सारे एक्जॉम की प्रीफरेशन करने के लिए और कांपटीटिव (Competitive) एक्जॉम के लिए कोर्सेस बनाते हैं।अपने ब्लॉग ऑडवरटाईज कराते है और जो अपने कोचिंग क्लासेस जाइन करते है तो उनके पास से फीस वसुला जाएगा।

ऑनड्राईड स्टुडियो/Android studio;-

आज सभी के पास मोबाइल फोन हमे दिखता है,यानि मोबाइल का इस्तैमाल आज हर कोई करता है।अभी जिसके पास मोबाइल फोन नही है वह भी फोन लेनेके लिए तरस रहे होंगे।दोस्तो जब मोबाइल का नाम आते ही ‘Apps’ का नाम हमे याद आते ही होंगे।इन ऑनड्राईड मोबाइल ऑपस् बनाने के लिए भी ऑनलाइन कोर्स ब्लॉग मे ऑड करते है।

इस कोर्स सीखाने के लिए पैसे लेते हैं इस कोर्स मे ऑपस् कैसे बनाये जाते हैं और उन्हे प्लेस्टोर मे कैसे पब्लिश करते हैं यह सब सीखाते है।

ब्लॉगिंग/Bloging –

ब्लॉगिंग कैसे करना है और इसके लिए हमे क्या क्या करना पढेगा, फ्री मे अपने लिए ब्लॉग कैसै बनाए।और इसीके साथ साथ ब्लॉग डिजाइन कैसै करना चाहिए इतनाही नही हर तरह का वेबसाइट कैसै बनाए ये सब इस कोर्स में ऑड करते हैं।

ब्लॉगिंग के साथ साथ यूट्यूब चॉनेल बनाके पैसे कैसे कमाते हैं ऐसे सभी बातें बताते हैं जो हमे कभी सुनने को नही मिला।

एस.ई.ओ./S.E.O. (search engine optimization) :-

बहुत सारे लोग एस. ई.ओ.कोर्स अपने ब्लॉग मे ऑड करके लोगों सीखाके पैसे लेते हैं।अगर किसी ब्लॉगर को एस.ई.ओ.क्या है? यह समझ मे नही आया तो वह अपना ब्लॉग पोस्ट को कभी गूगल मे rank नही कर पाएगा।

इसलिए सबसे पहले एस.ई.ओ सीखते हैं इसके बगर हम ब्लॉगिंग तो नही कर पाएगा एस.ई.ओ बहुत बढा है जिसमे ब्लॉगिंग एक छोटासा हिस्सा है।

ब्लॉग्स सेल करना/Blogs sell karna:-

ब्लॉग्स सेल करना हमे थोडा अजिब लगता है लेकिन ऐसे करके कमाते हैं।इस तरह अपने ब्लॉग को सेल करने के लिए अपने पास मे बहुत बढा टीम मेंबर्स होना जरूरी है।यह काम सभी नही कर पाएगा।

पहले अपने ब्लॉग को गूगल के टॉप टेन अपने पोस्ट को लाते है,इसके लिए अपने ब्लॉग का एस.ई.ओ करते हैं और अपने ब्लॉग को किसी को बिकते हैं। और दुबारा इसी तरह ब्लॉग बनाते है और बिकते हैं, इसलिए इनका ब्लॉग मे ऑडस लगाने की कोई जरूरत नहीं रहती है।

इस तरह ब्लॉग से लोग कमाते हैं अपने ब्लॉग से हमे कैसै पैसे कमाना है यह हमे डिसाइड करना पढेगा।लेकिन किसी एकी मार्ग का पैसे कमाने के लिए इस्तेमाल न करे जैसे गूगल ऑडसेन्स और अफिलिएट मारकेटींग का इस्तेमाल हम कर सकते है।

अगर आपको Blog se paise kaise kamaye? यह पोस्ट अच्छा लगा तो अपने दोस्तों को जरूर शेयर करे।और इसमे कुछ कमिया है तो कमेंट करके बताये ताकि इसमे मै कुछ इंप्रूवमेंट कर सकू।

Suresh Burla Sironcha Di- Gadchiroli State -Maharastra India

Leave a Reply